अनुमान से कमजोर नतीजों के कारण टूटा यस बैंक (Yes Bank) का शेयर

पिछले कारोबारी साल की दूसरी तिमाही की तुलना में चालू वित्त वर्ष की समान अवधि में यस बैंक (Yes Bank) के शुद्ध लाभ में 3.8% की गिरावट दर्ज की गयी।

equity

जानकारों का मानना है कि अधिक प्रोविजन और उच्च ऋण लागत का असर यस बैंक के मुनाफे पर पड़ा। तिमाही के दौरान बैंक के प्रेविजन 110.3% की बढ़त के साथ 940 करोड़ रुपये के रहे। ब्रोकिंग फर्म आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज ने बैंक के नतीजों को अनुमान से कमजोर बताया। आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज ने बैंक के 1,261.7 करोड़ रुपये के मुनाफे का अनुमान लगाया था, जबकि यस बैंक का मुनाफा 964.7 करोड़ रुपये रहा।

इसी बीच बैंक की शुद्ध ब्याज आमदनी 28.2% बढ़ कर 2,417.6 करोड़ रुपये और अन्य आमदनी 18% अधिक 1,473.45 करोड़ रुपये की रही। साल दर साल आधार पर यस बैंक का शुद्ध ब्याज मार्जिन 40 आधार अंकों की गिरावट के साथ 3.3%, ऑपरेटिंग लाभ 24.1% अधिक 2,366.4 करोड़ रुपये और एडवांस 61.2% बढ़ कर 2,39,627.5 करोड़ रुपये के रहे।

इस दौरान यस बैंक के एनपीए अनुपात में सुधार हुआ। बैंक का सकल एनपीए अनुपात 22 आधार अंकों की गिरावट के साथ 1.6% और शुद्ध एनपीए अनुपात 20 आधार अंकों की गिरावट के साथ 0.84% रह गया। इसके अलावा बैंक का सीएएसए अनुपात 33.8% और कुल जमाएँ 41% अधिक 2.22 अरब रुपये की रहीं।

बीएसई में आज यस बैंक के शेयर में कमजोरी देखने को मिल रही है। 198.35 रुपये के पिछले बंद स्तर के मुकाबले 178.55 रुपये पर शुरुआत के बाद यह 168.60 रुपये तक गिरा है। साढ़े 10 बजे के आस-पास बैंक का शेयर 11.90 रुपये या 6.00% की गिरावट के साथ 186.45 रुपये पर चल रहा है।

Get detailed equity Service provider right here at BSE & NSE. We provide Indian Stock market service like Equity Service, MCX, HNI& Currency Service | Ripples Advisory Private Limited

For 2-Day’s Free Trial>>Free Trial

Check Our Call Accuracy>>Past Performance

Contact Us: – 9644405056

Please follow and like us:
20