इंडियाबुल्स रिएल एस्टेट लंदन की प्रॉपर्टी को 1800 करोड़ रुपए में बेचेगी

भारतीय कारोबार पर फोकस करने और कर्ज घटाने के लिए यह फैसला लिया कंपनी पर 4590 करोड़ रुपए का कर्ज, जनवरी-मार्च में मुनाफा 95% घटा बीएसई पर कंपनी के शेयर में आज 10% उछाल आया

इंडियाबुल्स रिएल एस्टेट लंदन की प्रॉपर्टी को 20 करोड़ पाउंड (1,800 करोड़ रुपए) में अपने प्रमोटर्स को बेचेगी। भारतीय कारोबार पर फोकस करने और कर्ज चुकाने के लिए कंपनी ने यह फैसला लिया है। इंडियाबुल्स रिएल एस्टेट पर 31 मार्च तक 4,590 करोड़ रुपए का कर्ज था। लंदन की प्रॉपर्टी बिकने से जो रकम मिलेगी उससे कंपनी को कर्ज घटाकर 3,000 करोड़ लाने में मदद मिलेगी।

मुंबई-एनसीआर पर फोकस करेगी कंपनी
कंपनी ने लंदन की जिस प्रॉपर्टी को बेचने का फैसला किया है उसे 16.15 करोड़ पाउंड में खरीदा था। प्रॉपर्टी का मौजूदा वैल्यूएशन 18.9 करोड़ पाउंड है। इंडियाबुल्स का कहना है कि ब्रेग्जिट और इससे जुड़ी अनिश्चितताओं की वजह से लंदन के प्रॉपर्टी मार्केट में सुस्ती है। इसलिए कंपनी के प्रमोटरों ने लंदन की संपत्ति की पेरेंट फर्म सेंचुरी लिमिटेड को खरीद रहे हैं।

सौदे के लिए शेयरधारकों की मंजूरी लेनी होगी। कंपनी से जुड़ा लेन-देन होने की वजह से प्रमोटर इसके लिए होने वाली वोटिंग में हिस्सा नहीं लेंगे। कंपनी अब सिर्फ मुंबई और एनसीआर के कारोबार पर ध्यान देगी।

जनवरी-मार्च तिमाही में इंडियाबुल्स रिएल एस्टेट का मुनाफा 95% घटकर 108.56 करोड़ रुपए रह गया था। पिछले साल की जनवरी-मार्च तिमाही में कंपनी को 2,181.13 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ था। आय भी 3,244.25 करोड़ रुपए से घटकर 2,040.61 रुपए रह गई।

पूरे वित्त वर्ष (2018-19) में कंपनी ने सिर्फ 504 करोड़ रुपए का मुनाफा कमाया। वित्त वर्ष 2017-18 में यह 2,372.84 करोड़ रुपए था। हालांकि, आय में इजाफा हुआ है। वित्त वर्ष 2018-19 में कंपनी की आय बढ़कर 5,222.93 करोड़ रुपए हो गई। 2017-18 में यह 4,731.84 करोड़ रुपए थी।

कम वैल्यूएशन पर क्वालिटी स्टॉक, डिस्काउंट पर डिविडेंड ग्रोथ और आकर्षक कीमत पर हाई ग्रोथ यहां क्लिक करें और देखें- Stock Cash Trading Tips

Please follow and like us:
20