ओएनजीसी (ONGC) के खिलाफ रिलायंस नेवल (Reliance Naval) पहुँची उच्च न्यायालय

रिलायंस नेवल (Reliance Naval) ने ओएनजीसी (ONGC) के खिलाफ बॉम्बे उच्च न्यायालय में याचिका दायर की है।

याचिका के जरिये रिलायंस नेवल ने माँग की है कि अदालत ओएनजीसी को शेष पाँच अपतटीय आपूर्ति जहाजों (ओएसवी) की डिलीवरी स्वीकार करने का निर्देश दे। हालाँकि 30 नवंबर 2018 के अपने आदेश में बॉम्बे उच्च न्यायालय ने याचिका को स्वीकार करने से इंकार कर दिया था। मगर रिलायंस नेवल ने कहा है कि कंपनी अपने अधिकारों की रक्षा के लिए सभी आवश्यक कदम और कार्यवाही जारी रखेगी।
इससे पहले 30 जुलाई 2018 को जारी किये गये एक पत्र में ओएनजीसी ने 16 अक्टूबर 2009 को रिलायंस नेवल को दिये 12 में से 5 अपतटीय समर्थन जहाजों की आपूर्ति का ठेका रद्द कर दिया था। रिलायंस नेवल ने इसे ओएनजीसी का मनमाना फैसला कह कर अपने अधिकारों की रक्षा के लिए जरूरी कार्रवाई शुरू कर दी थी।
दरअसल समझौते के तहत रिलायंस नेवल को 12 जहाजों की आपूर्ति 31 मई 2018 तक करनी थी, जो नहीं हो पायी और ओएनजीसी ने अनुबंध न बढ़ा कर ठेका रद्द करने का निर्णय लिया।
इस बीच बीएसई में रिलायंस नेवल का शेयर गुरुवार के 14.26 रुपये के बंद स्तर की तुलना में आज 14.25 रुपये पर खुला। मगर सपाट शुरुआत के बाद कंपनी के शेयरों में खरीदारी देखने को मिली, जिससे यह 14.80 रुपये तक चढ़ा। करीब 10.20 बजे कंपनी का शेयर 0.39 रुपये या 2.73% की बढ़ोतरी के साथ 14.65 रुपये पर चल रहा है। वहीं ओएनजीसी का शेयर इस समय 0.30 रुपये या 0.21% की वृद्धि के साथ 143.55 रुपये के भाव पर है।

Get detailed equity Service provider right here at BSE & NSE. We provide Indian Stock market service like Equity Service, MCX, HNI& Currency Service | Ripples Advisory Private Limited

For 2-Day’s Free Trial>>Free Trial

Check Our Call Accuracy>>Past Performance

Contact Us: – 9644405056

Please follow and like us:
20