कर्नाटक चुनाव: रिजल्ट के बाद निफ्टी छू सकता है 10900 का लेवल, स्टॉक्स दे सकते हैं 100% तक रिटर्न

कर्नाटक चुनाव के नतीजे मंगलवार को साफ हो जाएंगे। मार्केट की निगाहें चुनाव के रिजल्ट पर है। मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है कि मार्केट को कर्नाटक में बीजेपी के जीतने की उम्मीद है। ऐसा होने पर सेंटर में पॉलिटिकल स्टेबिलिटी का सेंटीमेंट बनेगा और शेयर बाजार में तेजी का रुख बनेगा। नतीजे इसके उलट होने पर मार्केट में दबाव दिख सकता है। फिलहाल कर्नाटक में बीजेपी जीती तो कुछ शेयरों में तेजी का अनुमान है। एक्सपर्ट्स और ब्रोकरेज हाउस ने इनमें 100 फीसदी तक रिटर्न का अनुमान जताया है।ripplesadvisory

मार्केट में जारी रहेगी तेजी
ट्रेडस्विफ्ट ब्रोकिंग के डायरेक्टर संदीप जैन का कहना है कि कर्नाटक चुनाव के एग्जिट पोल में किसी दल को बहुमत नहीं मिले हैं। फिर भी वहां जेडीएस के साथ मिलकर बीजेपी की सरकार बनाने की उम्मीद है। बीजेपी को अगर 100 से कम सीटें आती हैं तो बाजार में थोड़ा करेक्शन देखने को मिल सकता है। लेकिन सरकार बनाने की स्थिति में मार्केट में तेजी रहने की उम्मीद है। हालांकि स्टॉक मार्केट के लिए कर्नाटक के नतीजों के अलावा कुछ दूसरे फैक्टर भी अहम होंगे। मसलन क्रूड, रुपए की चाल जैसे फैक्टर अभी भी मौजूद हैं, जिसका असर कुछ दिनों तक मार्केट पर रहेगा।

निफ्टी 10,900 के स्तर तक जाएगा
फॉर्च्यून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर ने कहा कि कर्नाटक चुनाव के नतीजे का बाजार पर ज्यादा असर नहीं होगा। एग्जिट पोल में पिछली बार की तुलना में बीजेपी की सीटें बढ़ती दिख रही हैं। कर्नाटक में बीजेपी की सरकार नहीं भी बन पाई तो भी उसकी 22 राज्यों में सरकार है। वहीं मार्केट एक्सपर्ट सचिन सर्वदे ने कहा कि बाजार में तेजी बने रहेगी। अगर रिजल्ट मार्केट की उम्मीदों के मुताबिक रहा तो निफ्टी 10,900 के स्तर तक जा सकता है।

किन शेयरों पर रखें नजर

विजया बैंक
रिटर्न:
 100%

विजया बैंक पब्लिक सेक्टर की बैंक है जिसका कॉरपोरेट ऑफिस बेंगलुरू में हैं। फाइनेंशियल ईयर 2018 की चौथी तिमाही में बैंक का प्रॉफिट 1.6 फीसदी बढ़कर 207.31 करोड़ रुपए रहा। पिछले साल समान अवधि में बैंक का प्रॉफिट 203.99 करोड़ रुपए था। तिमाही के दौरान बैड लोन के लिए बैंक की प्रोविजनिंग बढ़कर 552.91 करोड़ रुपए पर पहुंच गई, जो इससे पिछले साल समान तिमाही में 344.56 करोड़ रुपए थी। हालांकि बैंक का ग्रॉस एनपीए पिछले साल समान अवधि में 6.59 फीसदी से घटकर 6.34 फीसदी रहा। मार्केट एक्सपर्ट सचिन सर्वदे ने विजया बैंक के स्टॉक में 120 रुपए के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है। बैंकों में एनपीए की समस्या से निपटने के लिए फाइनेंस मिनिस्ट्री उन्हें विशेष प्रकार का बॉन्ड जारी करने का नया प्रयोग करने के पर विचार कर रहा है। इससे बैंकों की स्थिति सुधरेगी और उसे फायदा होगा। करंट प्राइस से स्टॉक में 100 फीसदी रिटर्न मिल सकता है।

भारत इलेक्ट्रॉनिक्स
रिटर्न: 
53%

भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड एयरोस्पेस और डिफेंस सेक्टर की सरकारी कंपनी है। फाइनेंशियल ईयर 2018 में 10,000 करोड़ रुपए का ऑर्डर मिला है। आकाश और एलआर सैम के अलावा ईयू समयुक्ता (1000 करोड़ रुपए), कमांडर थर्मल इमेजर्स, क्यूआर सैम और आकाश का ऑर्डर मिलने की उम्मीद है। फाइनेंशियर ईयर 2019 में कंपनी को 18,000-19,000 करोड़ रुपए से ज्यादा का ऑर्डर मिलने का अनुमान है। कंपनी अगले 5 सालों में अपनी बिक्री दोगुना कर 20,000 करोड़ रुपए करने का लक्ष्य रखी है। ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने स्टॉक में 196 रुपए के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है। सरकार देसी हथियारों के विकास पर जोर दे रही है जिसका फायदा इस कंपनी को मिल सकता है।  करंट प्राइस से स्टॉक में 53 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है।

कैनरा फिन होम्स
रिटर्न: 
101%

कैनरा फिन होम्स हाउसिंग फाइनेंस कंपनी है। फाइनेंशियर ईयर 2018 की चौथी तिमाही में कंपनी के नतीजे बेहतर रहे। चौथी तिमाही में कंपनी का प्रॉफिट 6 फीसदी बढ़कर 75 करोड़ रुपए रहा। एक साल पहले समान क्वार्टर में कंपनी का प्रॉफिट 71 करोड़ रुपए था। सालाना आधार पर कंपनी की रेवेन्यू 11 फीसदी बढ़कर 400 करोड़ रुपए रही। हाउसिंग सेक्टर में कंपनी का लोन बुक ग्रोथ हाई है, वहीं नॉन हाउसिंग सेग्मेंट में कंपनी की एसेट क्वालिटी बेहतर हुआ है। सरकार के अफोर्डेबल हाउसिंग प्रोजेक्ट पर जोर दिया है। इससे होम लोन की डिमांड बढ़ेगी और इसका फायदा इस कंपनी को भी मिल सकता है।  मार्केट एक्सपर्ट सचिन ने स्टॉक में 775 रुपए के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है। करंट प्राइस से इसमें 101 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है।

इंफोसिस
रिटर्न:
 20%

कर्नाटक आईटी हब के लिए मशहूर है। देश की दूसरी बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस कर्नाटक बेस्ड है। फाइनेंशियल ईयर 2018 की चौथी तिमाही में कंपनी के नतीजे उम्मीद के मुताबिक रहे। चौथी तिमाही में कंपनी का प्रॉफिट 28 फीसदी घटकर 3690 करोड़ रुपए रहा जबकि तीसरी तिमाही में कंपनी को 5129 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था। वहीं फाइनेंशियल ईयर 2017 की चौथी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 3603 करोड़ रुपए रहा था। कंपनी ने बिजनेस बढ़ाने के लिए तीन साल का रोडमैप पेश किया है जिसमें कहा कि इंफोसिस ग्रोथ को रफ्तार देने के लिए एक्विजिशन में इन्वेस्ट करेगी। फाइनेंशियल ईयर 2019 के लिए कंपनी ने डॉलर इनकम गाइडैंस 7 से 9 फीसदी रखा है। मजबूत गाइडैंस को देखते हुए ब्रोकरेज हाउस एडलवाइस ने स्टॉक में 1419 रुपए के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है। बाजार में तेजी का फायदा कंपनी को मिल सकता है। करंट प्राइस से स्टॉक में 20 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है।

(नोट- यहां दी गई सलाह मार्केट एक्सपर्ट और टॉप ब्रोकरेज हाउस के द्वारा जारी रिपोर्ट के आधार पर हैं। हर स्टॉक से जुड़े अपने जोखिम होते है, इसलिए सलाह है कि अपने स्तर पर जांच या अपने एक्सपर्ट की सलाह के बाद ही निवेश का फैसला लें।)

Best services for customers with full technical support make your Financial Trading more easy click here to subscribe us for free >> Ripples Advisory

Please follow and like us:
20