बाजार में बिकवाली हावी, निफ्टी 11870 के आसपास

भारतीय बाजारों के लिए विदेशी संकेतों पर नजर डालें तो एशियाई बाजारों में मिलाजुला कारोबार देखने को मिल रहा है। लेकिन SGX निफ्टी पर दबाव दिख रहा है। उधर अमेरिकी बाजार में दो दिनों की गिरावट थमी है और कल के कारोबार में डाओ 100 अंक चढ़कर बंद हुआ है। वहीं, ओमान की खाड़ी में तेल टैंकरों पर हमले के बाद कच्चे तेल में उछाल देखने को मिला है और ब्रेंट का भाव 61 डॉलर के पार चला गया है। धमाके लिए अमेरिका ने ईरान को जिम्मेदार ठहराया है। लेकिन ईरान ने आरोपों को खारिज किया है।

इन ग्लोबल संकेतों के बीच सेंसेक्स और निफ्टी में आज भी सुस्ती देखने को मिल रही है। दिग्गजों के साथ मिड और स्मॉलकैप शेयरों में भी सुस्ती नजर आ रही। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.08 फीसदी की कमजोरी के साथ 14861.03 के स्तर पर नजर आ रहा है। वहीं, स्मॉलकैप इंडेक्स 0.01 फीसदी की कमजोरी के साथ 14,475.37 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। क्रूड में आई तेजी के चलते तेल और गैस शेयर दबाव में आ गए हैं। बीएसई का ऑयल एंड गैस इंडेक्स 0.24 फीसदी की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है।

बैंकिग शेयरों पर दबाव बना हुआ है। निफ्टी का पीएसयू बैंक इंडेक्स 0.20 फीसदी और प्राइवेट बैंक इंडेक्स 0.21 फीसदी की कमजोरी के साथ कारोबार कर रहा है। बैंकिंग सेक्टर में बिकवाली के चलते बैंक निफ्टी 0.20 फीसदी की कमजोरी के साथ 30,915 के आसपास नजर आ रहा है।

बाजार में आज मेटल शेयरों को छोड़कर चौतरफा बिकवाली का दबाव दिख रहा है। निफ्टी के ऑटो इंडेक्स में 0.24 फीसदी, एफएमसीजी इंडेक्स में 0.11 फीसदी, आईटी इंडेक्स में 0.20 फीसदी, फार्मा इंडेक्स में 0.74 फीसदी और रियल्टी इंडेक्स में 0.72 फीसदी की कमजोरी देखने को मिल रही है। हालांकि कारोबार के इस दौरान निफ्टी का मेटल इंडेक्स हरे निशान में दिख रहा है। निफ्टी का मेटल इंडेक्स 0.11 फीसदी की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है।

फिलहाल बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 118 अंक यानि 0.30 फीसदी की कमजोरी के साथ 39,625 के स्तर के नीचे कारोबार कर रहा है। वहीं एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी करीब 45 अंक यानि 0.39 फीसदी की गिरावट के साथ 11,870 के आसपास कारोबार कर रहा है।

! कम वैल्यूएशन पर क्वालिटी स्टॉक, डिस्काउंट पर डिविडेंड ग्रोथ और आकर्षक कीमत पर हाई ग्रोथ यहां क्लिक करें और देखें – Stock Cash Trading Tips

Please follow and like us:
20