मास्टरकार्ड अगले 5 साल में भारत में 7 हजार करोड़ रुपए का निवेश करेगी

इतना ही निवेश बीते 5 साल कर चुकी, कहा- भारत की इकोनॉमी में भरोसा बढ़ा अपने प्लेटफॉर्म्स के लिए भारत को ग्लोबल टेक्नोलॉजी सेंटर बनाने की भी योजना

ग्लोबल कार्ड पेमेंट कंपनी मास्टरकार्ड अगले पांच साल में भारत में 1 अरब डॉलर (7,000 करोड़ रुपए) का निवेश करेगी। इतना ही निवेश बीते 5 साल में किया जा चुका है। कंपनी का कहना है कि भारत की इकोनॉमी में भरोसा बढ़ा है। इसलिए अगले एक दशक में निवेश और बढ़ाया जा सकता है।

भारत ग्लोबल टेक सेंटर बनाने की योजना

मास्टरकार्ड के को-प्रेसिडेंट (एशिया पैसिफिक) एरि सरकार का कहना है कि कंपनी अपने प्लेटफॉर्म्स के लिए भारत को ग्लोबल टेक्नोलॉजी सेंटर बनाना चाहती है। अमेरिका के बाहर भारत ऐसा पहला देश होगा। कंपनी की सात हजार करोड़ रुपए के निवेश में से करीब 207 करोड़ टेक सेंटर तैयार करने में खर्च किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि इस निवेश से इनोवेशन को बढ़ावा देने और मास्टरकार्ड को अपनी क्षमता और वैल्यू-एडेड सर्विसस की संख्या बढ़ाने में मदद मिलेगी। भुगतान नेटवर्क के रूप में हम एक वैश्विक नेटवर्क हैं। हमारे सभी सौदे वैश्विक नेटवर्क के जरिए होते हैं।

एरी का मानना है कि भारत में फाइनेंशियल टेक्नोलॉजी सेक्टर में ग्रोथ अच्छी है। देश में डिजिटल भुगतान के लिए कार्ड पसंदीदा माध्यम है। आरबीआई के आंकड़ों के मुताबिक इस साल फरवरी तक 99.06 करोड़ कार्ड थे। इनमें से 4.6 करोड़ क्रेडिट कार्ड और 94.5 करोड़ डेबिट कार्ड थे।

कम वैल्यूएशन पर क्वालिटी स्टॉक, डिस्काउंट पर डिविडेंड ग्रोथ और आकर्षक कीमत पर हाई ग्रोथ यहां क्लिक करें और देखें- Best Stock Advisory Company in Indore .

Please follow and like us:
20