सोयाबीन में गिरावट की संभावना, रुकी रह सकती है सरसों में बढ़त

सोयाबीन वायदा (दिसंबर) की कीमतों के नरमी के रुझान के साथ 3,270 रुपये तक लुढ़कने की संभावना है।

mcx service

कमजोर माँग के कारण देश के प्रमुख बाजारों में धनिया की कीमतों में गिरावट हो रही है। बेंचमार्क इंदौर बाजार में सोयाबीन की कीमतें 25 रुपये की गिरावट के साथ 3,100-3,175 रुपये प्रति 100 किलो ग्राम हो गयी हैं और सोयामील की कीमत 27,500 रुपये प्रति टन पर स्थिर हैं। अमेरिका और चीन के बीच विवाद के बावजूद चीन द्वारा भारत से सोयामील का आयात नही किये जाने से सोयाबीन की कीमतों पर दबाव पड़ रहा है। अमेरिका और चीन के बीच विवाद के लंबा चलने की आशंका से अमेरिकी सोयाबीन की कीमतों में भी गिरावट हुई है।

सरसों वायदा (जनवरी) की कीमतों के 3,980-4,040 रुपये के दायरे में सीमित दायरे में कारोबार करने की संभावना है और कीमतों की बढ़त पर रोक लगी रह सकती है। चीन की ओर से सरसोमील के आयात को लेकर कोई नया करार नही किये जाने के कारण सरसों की पेराई में गिरावट हुई है। चीन ने अक्टूबर में भारतीय सरसोंमील के आयात को मंजूरी दी थी। अधिक कीमतों पर सरसों तेल की कम माँग के बीच मौजूदा रबी सीजन में बुआई में तेजी के कारण सेंटीमेंट उत्साहजनक नहीं है।

सीपीओ (दिसंबर) वायदा कीमतों के 485-495 रुपये के दायरे में कारोबार करने की संभावना है। इंडोनेशिया ने कच्चे पॉम तेल के निर्यात पर लेवी को 50 डॉलर प्रति टन से कम करके शून्य करने का फैसला किया है। इस फैसले से अंतरराष्ट्रीय बाजार में मलेशियन पॉम ऑयल की कीमतों में गिरावट जारी है। कच्चा तेल और अमेरिकी सोया तेल की कीमतो में नरमी से भी पॉम ऑयल की कीमतों पर दबाव पड़ रहा है।

On a one MISSED CALL on @9644405056 you can have your Free Trials for two days in Share Market so why are you waiting for, Hurry up! SUBSCRIBE US >>MCX Services

Please follow and like us:
20

About admin

The stock market refers to any market arena where dealings of securities including equities, bonds, currencies, and derivatives occurs. Ripples Advisory Private Limited, Indore is the one who undertakes a wide range of competence, and our client’s services are boosts by our knowledge of regional risks and markets to inform the quirky financial, risk managing and regulatory appeals that they face.
View all posts by admin →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *