Browse Category: Ripples_Advisory

Gold slips to two-week low as rising bond yields support dollar

Gold prices slipped to their lowest level in nearly two weeks on Monday as the dollar rose on the back of climbing U.S. Treasury yields and as global political concerns eased.ripplesadvisory

Spot gold was down 0.1 percent at $1,333.71 per ounce at 0346 GMT, after earlier touching its lowest since April 10 at $1,331.70.

U.S. gold futures fell 0.2 percent to $1,335.50 per ounce.

“Gold prices dropped back to the levels of around a week ago, with easing geopolitical tensions, the stronger USD and gains in U.S. rates affecting the market,” ANZ analysts said in a note.

The dollar traded near a two-week high against a basket of major currencies on Monday, bolstered by rising U.S. bond yields and as concerns eased over global political risks after North Korea said it would suspend nuclear and missile tests, scrap its nuclear test site and pursue economic growth and peace.

“We’re on another high for the year for dollar yields and it’s not boding well for gold,” a Hong Kong-based trader said.

Yields on benchmark 10-year Treasuries climbed to the highest level since Jan, 2014 on Friday. Higher U.S. bond yields tend to boost the dollar and weigh on greenback-denominated gold.

Expectations that the Federal Reserve would raise interest rates three more times in 2018 after strong U.S. data last week, was also supporting the dollar.

Gold has held its 50-day moving average around $1,332 an ounce, the trader said.

“But I think Europe will look for the bigger picture which is dollar strength and I think they’ll look to sell into this rally.”

Speculators raised their net long positions in COMEX gold by 5,382 contracts to 143,594 contracts in the week to April 17, U.S. Commodity Futures Trading Commission data showed on Friday.

Spot gold may test support at $1,326 per ounce, following its failure to break resistance at $1,354, Reuters technical analyst Wang Tao said.

Among other precious metals, spot silver fell 0.4 percent to $17.04 per ounce.

Platinum was about 0.2 percent higher at $924 an ounce, while palladium rose nearly 0.3 percent to $1032.70 an ounce.

Best services for customers with full technical support make your Financial Trading more easy click here to subscribe us for free >> Ripples Advisory

Mentha oil futures up on increasing demand

ripplesadvisoryMentha oil futures were trading higher during the morning trade in the domestic market on Monday amid pick-up in demand at domestic spot market and restricted supplies from producing regions. Market analysts said fresh positions built up by traders following pick-up in demand from consuming industries in the spot market against restricted supplies from Chandausi, led to the rise in mentha oil prices in futures trade.

At the MCX, mentha oil futures for April 2018 contract was trading at Rs 1426 per kg, up by 2.26 per cent, after opening at Rs 1412, against the previous closing price of Rs 1394.50. It touched the intra-day high of Rs 1435.80.

Make sure your Financial Advisors worth their fees here we’re letting you know us more who we actually so click here to TRADE UP >> Ripples Advisory

Cardamom futures up on increasing demand

Cardamom futures were trading higher during the morning trade in the domestic market on Monday as investors and speculators extended their positions in the agri-commodity amid rise in physical demand for cardamom in the domestic spot market. Further, insufficient supplies on higher physical arrivals from the major cardamom producing regions, supported the upward trend in the domestic cardamom prices.ripplesadvisory

At the MCX, cardamom futures for May 2018 contract was trading at Rs 970 per kg, up by 2.74 per cent, after opening at Rs 967, against a previous close of Rs 944.10. It touched the intra-day high of Rs 972.40.

Best services for customers with full technical support make your Financial Trading more easy click here to subscribe us for free >> Ripples Advisory

निफ्टी बेचें, टेक महिंद्रा और मदरसन सूमी खरीदें : आईसीआईसीआई डायरेक्ट

आईसीआईसीआई डायरेक्ट (ICICI Direct) ने आज के एकदिनी वायदा कारोबार के लिए निफ्टी (Nifty) में बिकवाली, टेक महिंद्रा (Tech Mahindra) और मदरसन सूमी (Motherson Sumi) में खरीदारी करने के लिए कहा है।ripplesadvisory

ब्रोकिंग फर्म ने आज अपनी रिपोर्ट में निफ्टी अप्रैल फ्यूचर को 10570.00-10580.00 रुपये के बीच बेचने की सलाह दी है। इस सौदे में 10522.00 का लक्ष्य रखने की सलाह है। घाटा काटने का स्तर (स्टॉप लॉस) 10,602.00 बताया गया है।
साथ ही इसने टेक महिंद्रा अप्रैल फ्यूचर को 695.00-697.00 रुपये के बीच खरीदने की सलाह दी है। इस सौदे में 703.40/710.20 रुपये के लक्ष्य रखने की सलाह है। घाटा काटने का स्तर (स्टॉप लॉस) 689.70 रुपये पर बताया गया है।
मदरसन सूमी अप्रैल फ्यूचर को 347.50-348.50 रुपये के बीच खरीदने की सलाह दी गयी है। इस सौदे में 351.40/354.80 का लक्ष्य रखने की सलाह है। घाटा काटने का स्तर (स्टॉप लॉस) 344.60 रुपये पर बताया गया है।

ध्यान रखें कि यह सलाह अप्रैल फ्यूचर के कारोबार के लिए है।

Confirm your financial future with best service advantages of Ripples Advisory Private Limited and here we provide best recommendations for you SUBSCRIBE NOW >>Ripples Advisory

वैश्विक बाजारों से मिले नकारात्मक रुझानों के बीच भारतीय शेयर बाजार सपाट

कारोबारी सप्ताह के पहले दिन सोमवार को भारतीय शेयर बाजार बढ़त के साथ खुला।मगर नकारात्मक वैश्विक रुझानों के बीच थोड़ी गिरावट से यह सपाट स्थिति में पहुँच गया। रुपया भी लगातार छठे सत्र में कमजोरी से 13 महीनों के निचले स्तर पर फिसल गया है।

ripplesadvisory

बीएसई सेंसेक्स (Sensex) 34415.58 के बंद भाव की तुलना में आज 34493.69 पर खुला। 10.05 बजे के करीब यह 11.34 अंक या 0.03% की मामूली बढ़त के साथ 34,426.92 पर है। वहीं एनएसई का निफ्टी (Nifty) 10,564.05 के पिछले बंद स्तर के मुकाबले 10,592.80 पर खुला औऱ इस समय यह 19.00 अंक या 0.18% की हल्की मजबूती के साथ 10,583.05 पर है।

दूसरी ओर शुरुआती करोबार में छोटे-मॅंझोले सूचकांकों में खरीदारी हो रही है। बीएसई मिडकैप में 0.21% और बीएसई स्मॉलकैप में 0.56% की मजबूती है। वहीं निफ्टी मिड 100 में 0.23% और निफ्टी स्मॉल 100 में 0.40% की वृद्धि दिख रही है। इस समय निफ्टी के 50 में 24 और सेंसेक्स के 31 शेयरों में 14 शेयर मजबूत स्थिति में हैं।

Make sure your Financial Advisors worth their fees here we’re letting you know us more who we actually so click here to TRADE UP >> Ripples Advisory

TCS hits $100 bn in market cap; Nifty reclaims 10,600, Sensex up over 100 pts

ICICI Bank, Infosys, Bajaj Finance, SBI, Axis Bank, Adani Ports, Hero Motocorp and Bharti Airtel fell up to 2 percent.

Market Update: The market gained strength, with the Sensex rising more than 100 points and the Nifty reclaiming 10,600 levels.

ripplesadvisory

TCS is the leading gainer, rising more than 4 percent to become the first company to hit USD 100 billion in market cap after healthy earnings and management commentary.

Shilpa Medicare in News: Shilpa Medicare gained more than 2 percent after the company has received EU-GMP certification from Austrian Agency, AGES for its two API manufacturing plants located at Raichur, Karnataka and formulation facility located at Jadcherla, Telangana.

Austrian Agency, AGES carried out an audit of said API plants between January 16 and January 24, 2018, and formulation facility between January 25 and January 31, 2018.

Phoenix Mills gained over a percent after Island Star Mall Developers (ISMDPL), the strategic investment alliance owned by the company and Canada Pension Plan Investment Board (CPPIB), acquired a prime land parcel in Hebbal, Bengaluru for a total consideration of Rs 650 crore.

The site has a development potential of approximately 1.81 million square feet.

Stake Sale: Tata Sons sold over Rs 9000 crore (representing 1.6 percent of paid-up equity) worth of TCS shares in March.

Rupee Trade: Falling for the sixth consecutive session, the rupee weakened by 12 paise to 66.22 against the US dollar at the interbank foreign exchange market, amid foreign capital outflows.

Forex dealers said, sustained demand for the American currency from importers and dollar strength against other currencies overseas, bolstered by rising US bond yields, weighed on the domestic unit.

On Friday, The rupee had crashed below the key 66 level to close at a 13-month low of 66.12 against the US currency, hit by a resurgent dollar, firming crude prices and a more hawkish tone of the Reserve Bank.

TCS in Focus: TCS continued its run, rising nearly 3 percent and becoming the first company to hit a USD 100 billion in market capitalization.

The IT major has crossed even its competitor Accenture (USD 98 billion) in market cap.

USFDA Approval: Unichem Labs rallied 7 percent after the US Food and Drug Administration completed Ghaziabad plant inspection and has not issued any observations.

Buzzing: Indiabulls Housing Finance share price gained more than 2 percent after its Q4 consolidated net profit grew by 22.6 percent YoY to Rs 1,030.4 crore, revenue 25.9 percent to Rs 3,689.7 crore and net interest income rose 22.1 percent to Rs 1,661 crore.

HDFC Bank in focusHDFC Bank share price remained flat in trade after its Q4FY18 profit grew by 20.3 percent YoY to Rs 4,799.3 crore and net interest income was up 17.7 percent to Rs 10,657.7 crore; the board of directors recommended a dividend of Rs 13 per equity share of Rs 2 each.

Market Check: Benchmark indices were off their opening highs amid global weakness. Investors after digesting HDFC Bank numbers look for more corporate earnings to get further market direction.

The 30-share BSE Sensex was down 53.42 points at 34,362.16 and the 50-share NSE Nifty fell 9.10 points to 10,554.90.

ICICI Bank, Infosys, Bajaj Finance, SBI, Axis Bank, Adani Ports, Hero Motocorp and Bharti Airtel fell up to 2 percent while TCS, Reliance Industries, L&T, HDFC, Indiabulls Housing, IOC, and HPCL were early gainers.

Best services for customers with full technical support make your Financial Trading more easy click here to subscribe us for free >> Ripples Advisory

एक्सपायरी वीक में दिख सकती है प्रॉफिट बुकिंग, इन फैक्टर्स पर रहेगी मार्केट की नजर

बैंकिंग सेक्टर में कमजोरी और ग्लोबल टेंशन के बाद भी पिछले हफ्ते शेयर मार्केट की चाल पॉजिटिव रही है। इस दौरान सेंसेक्स 0.65 फीसदी मजबूत होकर 34415 और निफ्टी 0.80 फीसदी की तेजी के साथ 10564 के स्तर पर बंद हुआ। एक्सपर्ट्स का कहना है कि एक्सपायरी वीक में क्रूड और रुपए के मूवमेंट के अलावा ग्लोबल टेंशन, सेंट्रल बैंकों की पॉलिसी से मार्केट पर दबाव दिख रहा है, जिससे प्रॉफिट बुकिंग देखी जा सकती है। हालांकि निफ्टी को नीचे की ओर से 10450 के स्तर पर अहम सपोर्ट दिख रहा है। उनका कहना है कि लंबी अवधि के नजरिए से मार्केट का आउटलुक बेहतर है, ऐसे में प्रॉफिट बुकिंग का इस्तेमाल निवेश के लिए करने की सलाह है।ripplesadvisory

एक्सपर्ट्स का कहना है कि इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड अपने 4 साल के हाई पर है। वहीं, रुपया 13 महीने के लो 66.12 के स्तर पर है। दूसरी ओर यूएस में 10 साल का बॉन्ड यील्ड में फिर तेजी देखी जा रही है। इंडिया में भी बॉन्ड यील्ड में तेजी है। ऐसे में महंगाई बढ़ने का डर बन गया है। वहीं, ग्लोबल फ्रंट पर यूरोपीयन सेंट्रल बैंक और बैंक ऑफ जापान इस हफ्ते पॉलिसी पर अहम निर्णय ले सकते हैं, जिसके पहले निवेशक सतर्क हैं। ग्लोबल टेंशन से भी दुनियाभर के बाजारों पर दबाव दिखेगा। सैमको सिक्युरिटीज के सीईओ एंड फाउंडर जिमित मोदी के अनुसार सीरिया मैटल, ट्रेड वार, क्रूड में तेजी, रुपए में कमजोरी, लिमिटेड फिस्कल फ्लेक्सिबिलिटी जैसे फैक्टर से अगले कुछ ट्रेडिंग सेशन मार्केट के सीमित दायरे में ही कारोबार करने की उम्मीद है।

क्रूड होगा बड़ा फैक्टर 

कोटक सिक्युरिटीज के रिसर्च वाइस प्रेसिडेंट टीना विरमानी के अनुसार क्रूड की कीमतें इंटरनेशनल मार्केट में लगातार बढ़ रही हैं। क्रूड के सबसे बड़े एक्सपोर्टर सऊदी अरब ने क्रूड के लिए 80 डॉलर से 100 डॉलर प्रति बैरल तक का टारगेट दिया है। ऐसे में क्रूड में और तेजी दिख सकती है। ऐसे में देश में महंगाई बढ़ने के साथ फिस्कल और करंट अकाउंट डेफिसिट का अनुमान बिगड़ने का डर है। यह मार्केट के लिए निगेटिव सेंटीमेंट है और एक्सपायरी वीक में मार्केट वोलेटाइल दिख सकता है।

अर्निंग सीजन

इस हफ्ते विप्रो, एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस, रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर, भारती एयरटेल, आईडीएफसी बैंक, अल्ट्राटेक सीमेंट, एक्सिस बैंक, बॉयोकॉन, यस बैंक, आईडीएफसी और मारूति सुजुकी के नतीजे मार्केट के लिए अहम होंगे। एक्सपर्ट्स शेयर मार्केट के लिए यह अर्निंग सीजन खास है। स्टैलियन एसेट्स डॉट कॉम के सीआईओ अमीत जेसवानी का कहना है कि मुनाफे के लिहाज से FY18 का Q4 पिछले कुछ तिमाही से बेहतर रहने की उम्मीद है। जीएसटी और नोटबंदी का असर खत्म होने से कंपनियों में मुनाफा आता दिख रहा है। सीजन की अभी शुरूआत है, लेकिन यह बेहतर रहता है तो मार्केट पर पॉजिटिव असर होगा। उनका कहना है कि मार्केट पर शॉर्ट टर्म के लिए दबाव दिख सकता है, लेकिन आगे आउटलुक बेहतर है। ऐसे में गिरावट पर निवेश के मौके बनेंगे।

मार्केट को सपोर्ट फैक्टर भी 

एक्सपर्ट्स का कहना है कि पिछले हफ्ते बेहतर मानसून के फोरकास्ट से मार्केट को सपोर्ट मिला है, जो आगे भी जारी रहने की उम्मीद है। एग्रो, रूरल, एफएमसीजी और ऑटो कंपनियों में पॉजिटिव हलचल दिख सकती है। वहीं, अर्निंग सीजन भी बेहतर दिख रहा है। टीसीएस के अच्छे नतीजों का अगले दिन असर दिखा। मिडकैप आईटी कंपनियों के भी नंबर अच्छे आ रहे हैं। ऐसे में आईटी सेक्टर में अपसाइड मूवमेंट दिखने की उम्मीद है। एचडीएफसी बैंक ने भी बेहतर नतीजे दिए हैं, जिसका असर सोमवार को दिख सकता है। मानसून से जुड़ी कंपनियों के नतीजे बेहतर रहते हैं तो उन्हें डबल सपोर्ट मिल सकता हे।

क्या करें निवेशक

एपिक रिसर्च के सीईओ मुस्तफा नदीम का कहना है कि इस हफ्ते मार्केट में स्टॉक स्पेसिफिक एक्शन दिखने की उम्मीद है। कई कंपनियों के नतीजे आने वाले हैं, जिनपर मार्केट रिएक्ट कर सकता है। निवेशकों को भी स्टॉक स्पेसिफिक रहकर ही नया निवेश करना चाहिए।

Best services products with best technical support which will make your Financial Trading easy let us to know you more click here for the next level  >>  Ripples Advisory Or in ONE MISSED CALL ON @9644405056

Rupee weakens, 8 paise falls at 66.20

On Monday, the first trading day of the week coincided with the fall. The rupee depreciated by 8 paise to 66.20 against the dollar. On Friday, the rupee closed at 66.12 with a big drop. On Friday, the rupee declined by 33 paise. The details of Reserve Bank’s Monitoring Policy meeting indicate that there may be a change in monetary policy stance at the June meeting. This raises the pressure on the rupee.ripplesadvisory

Friday started with 27 paise weakness

The rupee was 27 paise lower at 66.06 against the dollar on Friday, the last trading day of last week. With this fall the rupee reaches 13 months low. For the first time since March 2017, the rupee has come down to 66 levels. On Thursday, 3 paise was closed at 65.79 level.

Reasons for Declining Rupees

jay Kedia, director of the Kedia Commodity, says that the rise in Brent crude oil prices and FII sales have weakened in rupee terms. From which the rupee came to a low of 1 year.

On a one MISSED CALL on @9644405056 you can have your Free Trials for two days in Share Market so why are you waiting for, Hurry up! SUBSCRIBE US >> Ripples Advisory

 

थॉमस कुक खरीदेगी ट्रेवल कॉर्पोरेशन इंडिया में हिस्सेदारी

थॉमस कुक (Thomas Cook) ट्रेवल कॉर्पोरेशन इंडिया (Travel Corporation India) में 4.44% हिस्सेदारी खरीदेगी।कंपनी को इस सौदे को लिए निदेशक समूह की भी मंजूरी मिल गयी है। कंपनी ने यह खरीदारी सौदा अपनी सहायक कंपनी स्टर्लिंग हॉलिडे रिजॉर्ट्स (Sterling Holiday Resorts) के साथ किया।

उधर 277.75 रुपये के पिछले बंद स्तर की तुलना में 278.10 रुपये पर खुलने के बाद 10 बजे के करीब 275.40 रुपये के निचले स्तर तक फिसला। करीब पौने 12 बजे कंपनी के शेयरों में 2.15 रुपये या 0.77% की कमजोरी के साथ 275.60 रुपये पर कारोबार हो रहा है है।

ripplesadvisory

आईडीबीआई कैपिटल ने दिया टीसीएस (TCS) का नया लक्ष्य भाव

आईडीबीआई कैपिटल ने टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (Tata Consultancy Services) या टीसीएस (TCS) के तिमाही नतीजों को अपने अनुमानों के मुताबिक माना है।
2017-18 की चौथी तिमाही के इन नतीजों पर आईडीबीआई कैपिटल के उर्मिल शाह ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कंपनी ने डिजिटल सॉल्यूशन में अच्छी तेजी दिखायी है। इस कारोबार में नियत मुद्रा (सीसी) आधार पर तिमाही-दर-तिमाही 10.2% और साल-दर-साल 42.8% की उछाल दर्ज हुई है और इसका सालाना कारोबार अब लगभग 5 अरब डॉलर का हो गया है।
चौथी तिमाही में टीसीएस की आमदनी डॉलर में तिमाही-दर-तिमाही 3.9% बढ़ी है, जबकि नियत मुद्रा के आधार पर इसमें 2% बढ़त हुई है। इसे आईडीबीआई कैपिटल ने अनुमानों के अनुरूप बताया है। हालाँकि एबिट मार्जिन 0.22% अंक सुधर कर 25.4% पर पहुँचने को इस ब्रोकिंग फर्म ने अपने पूर्वानुमान से कुछ कम बताया है। इन तिमाही नतीजों में कंपनी की प्रति शेयर आय (ईपीएस) तिमाही-दर-तिमाही 5.7% बढ़ कर 36.1 रुपये रही है और यह भी अनुमानों के मुताबिक ही है। इन नतीजों के साथ ही टीसीएस ने 1:1 के अनुपात में बोनस शेयर जारी करने की भी घोषणा की है।
आईडीबीआई कैपिटल ने यह भरोसा जताया है कि 2018-19 के दौरान टीसीएस दिग्गज आईटी कंपनियों में से आमदनी में सबसे अच्छी वृद्धि दर्ज कर सकेगी। इसने आकलन किया है कि 2018-20 के वित्त वर्षों में टीसीएस की डॉलर आमदनी में 11.1% और ईपीएस में 13.3% की वार्षिक चक्रवृद्धि (सीएजीआर) दर से बढ़ोतरी होगी।
आईडीबीआई कैपिटल ने टीसीएस के शेयर को निचले भावों पर जमा (एकम्युलेट) करने की सलाह दी है और इसका नया लक्ष्य भाव 3,462 रुपये रखा है। यह लक्ष्य 2019-20 की अनुमानित ईपीएस पर 20 पीई अनुपात के आधार पर है।
टीसीएस के तिमाही नतीजे कल बाजार बंद होने के बाद पेश हुए थे। इन नतीजों के बाद आज सुबह टीसीएस के शेयर में जोरदार तेजी दिख रही है। सुबह करीब 10.40 बजे बीएसई में टीसीएस का शेयर भाव 161.95 रुपये या 5.08% की जबरदस्त उछाल के साथ 3,352.60 रुपये पर चल रहा है।

Make sure your Financial Advisors worth their fees here we’re letting you know us more who we actually so click here to TRADE UP >> Ripples Advisory

Mentha oil futures dip on subdued demand

Mentha oil futures were trading lower during the morning trade in the domestic market on Friday as investors and speculators cut down their positions in the agri-commodity amid muted physical demand for mentha oil from major consuming industries in the domestic spot market. Further exiting of bets by traders in the spot market was due to a fall in physical demand for mentha oil from consuming industries at the domestic spot market against sufficient stocks position on higher supplies from producing regions.ripplesadvisory

At the MCX mentha oil futures for April 2018 contract was trading at Rs 1409.10 per kg down by 0.42 per cent after opening at Rs 1421 against the previous closing price of Rs 1415.50. It touched the intra-day low of Rs 1405.

Best services for customers with full technical support make your Financial Trading more easy click here to subscribe us for free >> Ripples Advisory