India to contribute $500,000 to UN emergency response fund

 

 

The customer support is one of the important key factor in the success and we are providing you Two days Free trial to Trade in Financial market experience and so on click here http://www.ripplesadvisory.com/free-trial.php

India has said it will contribute USD 500,000 to the United Nations’s emergency response fund for the year 2016-17 as it stressed that the international response is falling significantly short of the challenges posed by humanitarian crises across the world. Counselor in India’s Permanent Mission to the UN, high-level Pledging Conference that the Government of India would be contributing USD 500,000 to the UN Central Emergency Response Fund (CERF) for the year 2016-17.
India’s cumulative contribution to the fund so far has been USD six million. Despite our own resource constraints, India has always been forthcoming within our ability and national circumstance in offering humanitarian assistance as per the needs and requests of our friends and partners,” Kumar said. Kumar added that the scale and instances of humanitarian crises around the world has been on the rise and the need for assistance to meet the challenges these crises pose has been unparalleled.

Federal Reserve set to raise interest rates

For Forex and Commodity Market Trading view as : http://www.ripplesadvisory.com/free-trial.php

 

 

 

The markets want to hear whether the Trump economy could jolt the Fed into a faster pace of interest rate hikes, but there’s little chance the Fed will send that message Wednesday, when it is expected to raise interest rates for the second time in 10 years. Fed watchers say the Fed is unlikely to tip its hand or tell a different story than it already has for next year, though it may give a nod to a better economy based on recent data and the low unemployment rate at 4.6 percent in November.

The markets have been widely expecting the Fed to raise the Fed funds target rate by a quarter point, the first rate hike in a year. The Fed also is expected to release its economic and interest rate forecasts at 2 p.m., when it releases its statement. At 2:30 p.m., Fed Chair Janet Yellen speaks to the press.

कमोडिटी बाजार: कच्चा तेल फिसला, क्या करें

For More http://www.ripplesadvisory.com/services.php

कल आए एपीआई के आंकड़ों में अनुमान से ज्यादा क्रूड का भंडार बढ़ने से आज इसकी कीमतों पर दबाव बढ़ गया है और फिलहाल ये करीब 1.5 फीसदी नीचे कारोबार कर रहा है। वहीं फेडरल रिजर्व के फैसले से पहले सोने की चाल छोटे दायरे में सिमट गई है। कॉपर को छोड़कर आज सभी मेटल में तेजी है निकेल का दाम सबसे ज्यादा बढ़ा है।

थोड़ी ही देर में थोक महंगाई दर के आंकड़े जारा होंगे और इससे पहले कल रिटेल महंगाई दर पिछले 2 साल के निचले स्तर पर गिर गई है। महंगाई के आंकड़ों पर नोटबंदी का असर साफ दिखा है। दाल की कीमतें पिछले साल के मुकाबले आधी रह गई हैं। अरहर की कीमतें तो नई फसल के आने से पहले ही एमएसपी के भी नीचे आ गई हैं। लेकिन खाने के तेलों पर इसका असर नहीं पड़ा है। एग्री कमोडिटी पर नजर डालें तो खाने के तेल आज सुर्खियों में हैं। सोया और पाम तेल का दाम करीब 0.5 से 1 फीसदी ऊपर है। ग्लोबल मार्केट में बढ़त से कीमतों को सपोर्ट मिला है। साथ ही मसालों में भी आज तेजी आई है। जहां हल्दी और जीरे का दाम करीब 1 फीसदी बढ़ गया है।

वैसे कमोडिटी मार्केट के लिए आज का दिन बेहद अहम रहने वाला है। क्योंकि आज फेडरल रिजर्व की बैठक का अंतिम दिन है और आज देर रात वहां ब्याज दरों पर फैसला आ सकता है। जिसका असर घरेलू बाजार कल कल देखने को मिलेगा। वहीं आज अमेरिका में नवंबर का रिटेल सेल्स का डाटा भी जारी होगा। साथ ही वहां इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन के आंकड़े भी जारी होंगे। ये सभी आंकड़े डॉलर के अलावा पूरे कमोडिटी बाजार पर असर डाल सकते हैं।

घरेलू बाजार में एमसीएक्स पर कच्चा तेल 1.5 फीसदी फिसलकर 3540 रुपये के नीचे दिख रहा है। जबकि नैचुरल गैस 0.7 फीसदी की गिरावट के साथ 235 रुपये के आसपास दिख रहा है। वहीं सोना 0.2 फीसदी बढ़कर 27600 रुपये के आसपास कारोबार कर रहा है। जबकि चांदी 0.3 फीसदी की बढ़त के साथ 41380 रुपये के करीब कारोबार कर रही है। वहीं कॉपर 0.3 फीसदी घटकर 390 रुपये के नीचे आ गया है। जबकि लेड 0.3 फीसदी कमजोरी के साथ 160 रुपये के नीचे कारोबार कर रहा है।

  1.  सोना एमसीएक्स: बेचें – 27600 रुपये, स्टॉपलॉस – 27700 रुपये, लक्ष्य – 27450 रुपये.
  2. चांदी एमसीएक्स: बेचें – 41400 रुपये, स्टॉपलॉस – 41800 रुपये, लक्ष्य – 40800 रुपये.
  3. कॉपर एमसीएक्स: बेचें – 390 रुपये, स्टॉपलॉस – 394 रुपये, लक्ष्य – 384 रुपये.
  4. लेड एमसीएक्स: बेचें – 159 रुपये, स्टॉपलॉस – 161 रुपये, लक्ष्य – 156 रुपये.
  5. कच्चा तेल एमसीएक्स: बेचें – 3535 रुपये, स्टॉपलॉस – 3576 रुपये, लक्ष्य – 3460 रुपये.
  6. नैचुरल गैस एमसीएक्स: बेचें – 235 रुपये, स्टॉपलॉस – 239 रुपये, लक्ष्य – 228 रुपये.

Mentha oil futures zoom 2.04% as demand picks up

Mentha oil futures rose over 2% during morning trade in the domestic market on Wednesday as investors and speculators indulged in building up fresh positions in the agri-commodity amid rise in physical demand for mentha oil from major consuming industries in the domestic spot market.

 http://www.ripplesadvisory.com/services.php Click here and watch out the best Share and Stock Market recommendations or One missed call on @9303093093.

 Further, widening of positions by traders in the spot market was led by increase in physical demand for mentha oil from consuming industries at the domestic spot market against insufficient stocks position on restricted supplies from producing regions, supported mentha oil prices at futures trade. At the MCX, mentha oil futures for December 2016 contract is trading at Rs 1023.90 per kg, up by 2.04 %, after opening at Rs 1,009, against the previous closing price of Rs 1,003.40. It touched the intra-day high of Rs 1,025.50.

UPCOMING TODAY DATA

7:00pm      Core Retail Sales m/m
PPI m/m
Retail Sales m/m
Core PPI m/m

7:45pm      Capacity Utilization Rate
Industrial Production m/m

8:30pm      Business Inventories m/m

9:00pm      Crude Oil Inventories

12:30am    FOMC Economic Projections
FOMC Statement
Federal Funds Rate

1:00am      FOMC Press Conference

http://www.ripplesadvisory.com/services.php Click here and watch out the best Share and Stock Market recommendations or One missed call on @9303093093.

Ripples Advisory Soyabean Market Update News

For More http://www.ripplesadvisory.com/services.php

Soyabean on NCDEX settled up by 0.49% at 3069 on account of good crushing demand from the mills. However, improving arrivals in the domestic market and forecasts for some much-needed rain in dry parts of Argentina’s growing areas, capped some gains. Looking at poor demand of soy meal some plants have reduced their crushing capacity and 5-10% plants have closed down their operation due to higher inventory of soy meal in those plants. Data published by government of Brazil, the world’s second-biggest bean producers, also showed sharp rally in harvest of soybean this year.

In addition to that, India’s exports of soybean oilmeal during November climbed four fold to 51,805 tons as compared to 8,909 tons in November 2015, data released from Solvent Extractors Association of India (SEA) showed. Further, China, the world’s largest soy buyer, imported 7.84 million tons of soybeans in November, the highest in nearly a year, government data showed on, as crushers replenished stocks ahead of the peak consumption period.

At the Indore spot market in top producer MP, soybean dropped -1 rupee to 3034 rupee per 100 kgs.Technically now Soyabean is getting support at 3055 and below same could see a test of 3040 level, And resistance is now likely to be seen at 3081, a move above could see prices testing 3092.

Trading Ideas

  • Soyabean trading range for the day is 3040-3092.
  • Soyabean prices gained on account of good crushing demand from the mills.
  • However, improving arrivals in the domestic market and forecasts for some much-needed rain in Argentina’s growing areas, capped some gains.
  • NCDEX accredited warehouses soyabean stocks gained by 5723 tonnes to 116491 tonnes.

नोटबंदी से केला सस्ता, दाम 75% तक गिरा

नोटबंदी की गाज केले के किसानों पर भी पड़ी है। महाराष्ट्र और दक्षिण भारत में नोटबंदी के बाद से केले की कीमतें करीब 75 फीसदी तक गिर गई हैं। हर हफ्ते इसकी कीमतों में गिरावट का सिलसिला जारी है। पिछले एक हफ्ते में महाराष्ट्र और मुंबई में इसकी कीमतें करीब 5 फीसदी गिर चुकी हैं। गौर करने वाली बात ये है कि पिछले साल के मुकाबले पैदावार कम होने के बावजूद कीमतों में गिरावट देखी जा रही है। महाराष्ट्र के जलगांव में इसकी कीमतें 800 रुपये क्विंटल के भी नीचे आ गई हैं। आपको बता दें भारत दुनिया में केले का सबसे बड़ा उत्पादक देश है।

India’s Crackdown On Cash Tempers De Beers Diamond Sales

Anglo American said on Tuesday demand at its latest De Beers diamond sale showed a slowdown in response to India’s withdrawal of high-value banknotes, but was still higher than a year ago when commodity trade was slumping.

Prime Minister Narendra Modi’s decision to scrap 500 rupee and 1,000 rupee banknotes as part of a crackdown on tax dodgers and counterfeiters has dented consumer spending in a country where most people are paid in cash, and buy what they need with cash.

Anglo American said rough diamond sales for De Beers’ final sale of the year amounted to $418 million, compared with the $476 million value of the previous sales cycle this year.

“While the trade in lower value rough diamonds is experiencing a temporary slowdown as a result of the demonetisation programme in India, demand across the rest of the product mix continued to be healthy,” Bruce Cleaver, CEO of De Beers, said.

 

 

For daily intraday tips and intraday calls click this link to get connect with us http://www.ripplesadvisory.com/services.php

नॉन एग्री कमोडिटी मार्केट में गिरावट, क्या करें

For More http://www.ripplesadvisory.com/services.php

नॉन एग्री कमोडिटी मार्केट में आज भारी गिरावट आई है। घरेलू बाजार में क्रूड और नैचुरल गैस समेत सोना और चांदी में भी तेज गिरावट आई है। वहीं बेस मेटल्स में भी कॉपर, लेड और जिंक में बिकवाली हावी है। एग्री कमोडिटी में आज खाने के तेल कमजोर हैं जबकि ग्वार में बढ़त पर कारोबार हो रहा है। लेकिन चीनी और गेहूं में बिकवाली हावी है। इंपोर्ट ड्यूटी खत्म होने के बाद से गेहूं पर लगातार दबाव बना हुआ है।

नोटबंदी के बाद आज पहली बार रिटेल महंगाई दर के आंकड़े जारी होंगे। हालांकि इस दौरान पूरे कमोडिटी बाजार पर असर पड़ा है और थोक में चीनी करीब 5 फीसदी सस्ती हो गई है जबकि गेहूं भी रिकॉर्ड स्तर से नीचे आ गया है। आज खाने के तेलों में भी दबाव है।

अमेरिका में आज से फेडरल रिजर्व की दो दिनों की बैठक शुरू होने जा रही है और इससे पहले सोने पर दबाव बढ़ गया है। ग्लोबल मार्केट में सोना पिछले करीब 10 महीने के निचले स्तर पर कारोबार कर रहा है। इस तिमाही के दौरान सोने में करीब 12 फीसदी की गिरावट आ चुकी है और पिछले 18 साल में सोने के लिए ये दूसरी सबसे खराब तिमाही साबित होने जा रही है। माना जा रहा है कि अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने के बाद सोने में गिरावट गहरा सकती है, इसीलिए गोल्ड ईटीएफ से लोग लगातार पैसा निकाल रहे हैं। सोने के साथ चांदी में भी कमजोरी है।

वहीं कल की तेजी के बाद कच्चे तेल में भी आज कमजोर कारोबार हो रहा है। नायमैक्स पर क्रूड 53 डॉलर के नीचे है जबकि ब्रेंट में 56 डॉलर के नीचे कारोबार हो रहा है। इस बीच लंदन मेटल एक्सचेंज पर कॉपर में भी कमजोरी देखी जा रही है। वहीं डॉलर के मुकाबले रुपये में भी हल्की कमजोरी है।

  1.  सोना एमसीएक्स (फरवरी वायदा) : बेचें – 27650, स्टॉपलॉस – 27745 और लक्ष्य – 27200
  2. सोना एमसीएक्स (फरवरी वायदा) : बेचें – 27695, स्टॉपलॉस – 27835 और लक्ष्य – 27455
  3. चांदी एमसीएक्स (मार्च वायदा) : खरीदें – 41380, स्टॉपलॉस – 41190 और लक्ष्य – 41830
  4. कच्चा तेल एमसीएक्स (दिसंबर वायदा) : खरीदें – 3530, स्टॉपलॉस – 3495 और लक्ष्य – 3610
  5. कॉपर एमसीएक्स (फरवरी वायदा) : बेचें – 393, स्टॉपलॉस – 396.5 और लक्ष्य – 386
  6. निकेल एमसीएक्स (दिसंबर वायदा) : खरीदें – 758, स्टॉपलॉस – 745 और लक्ष्य – 780
  7. सोया तेल एनसीडीईएक्स (दिसंबर वायदा) : खरीदें – 720, स्टॉपलॉस – 716 और लक्ष्य – 728
  8. चीनी एनसीडीईएक्स (मार्च वायदा) : बेचें – 3640, स्टॉपलॉस – 3680 और लक्ष्य – 3540

White metal falls ahead of FOMC meeting

Silver futures fell during afternoon trade in the domestic market on Tuesday as investors and speculators exited their positions in the precious metal on looming worries over an imminent interest rate hike by the US Federal Reserve in a key meeting that begins later in the day.

The US Fed is widely expected to raise interest rates in a two-day meeting on December 13-14, which could boost the US dollar. Precious metal is highly sensitive to rising interest rates, which lift the opportunity cost of holding non-yielding assets. 

 At the MCX, silver futures for March 2017 contract is trading at Rs 41,538 per kg, down by 0.45 per cent, after opening at Rs 41620, against a previous close of Rs 41724. It touched the intra-day low of Rs 41411.

For daily intraday tips and intraday calls click this link to get connect with us http://www.ripplesadvisory.com/services.php